ईशांत शर्मा: वो खिलाड़ी जो सफेद जर्सी में है भारत की ‘शान’

ईशांत शर्मा

भारतीय टेस्ट क्रिकेट टीम में मौजूदा समय में देखा जाए तो टीम में सबसे अनुभवी खिलाड़ी के तौर पर पहला नाम तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा का आएगा, जिन्होंने अभी तक अपने टेस्ट करियर में 101 मैच खेल हैं। हालांकि ईशांत के लिए टेस्ट क्रिकेट में यहां तक का सफर बिल्कुल भी आसान नहीं रहा है, क्योंकि एशियाई पिचों पर गेंदबाजी करना और लंबे समय तक खेलना किसी भी तेज गेंदबाज के लिए आसान राह नहीं रही है।

ईशांत शर्मा ने 14 साल की उम्र से क्रिकेट को गंभीरता से खेलना शुरू किया था, जिसके जल्द बाद ही ईशांत को दिल्ली की रणजी टीम से डेब्यू करने का मौका भी मिल गया। 6 फीट 5 इंच लंबे ईशांत शर्मा को साल 2007 में भारतीय टीम के बांग्लादेश के दौरे पर अपना पहला अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैच खेलने का मौका मिला, जिसमें उन्होंने सिर्फ 1 विकेट ही हासिल किया था।

ईशांत शर्मा

पाकिस्तान के खिलाफ अच्छे प्रदर्शन से बनाई ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जगह

ईशांत शर्मा ने अपनी प्रतिभा पाकिस्तान टीम के साल 2007 में भारत दौरे पर एम. चिन्नस्वामी स्टेडियम में खेले गए टेस्ट मैच के दौरान दिखाई थी। बल्लेबाजी के लिए मुफीद इस पिच पर ईशांत ने 140 रन देकर पाकिस्तान के 5 खिलाड़ियों के विकेट झटके थे। जिसके चलते वह ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर जाने वाली भारतीय टीम में जगह बनाने में कामयाब रहे।

पोटिंग को परेशानी में डालकर आए चर्चा में

साल 2008 में ईशांत शर्मा उस समय चर्चा में आए जब उन्होंने मौजूदा ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोटिंग को अपनी गेंदबाजी से काफी परेशान किया। इसके बाद ईशांत ने अपने करियर के दौरन 7 टेस्ट मैचों में पोटिंग के खिलाफ गेंदबाजी करते हुए 6 बार उनका विकेट हासिल किया जो किसी भी तेज गेंदबाज के लिए आसान काम बिल्कुल नहीं है। ईशांत ने इसके बाद अपने करियर में पीछे मुड़कर नहीं देखा और वह वनडे टीम में भी भारतीय गेंदबाजी क्रम के एक अहम सदस्य के तौर पर खेलने लगे थे।

वनडे और टी-20 से बनाई दूरी

ईशांत शर्मा के लिमिटेड ओवर्स फॉर्मेट करियर उतना लंबा नहीं रहा, जिसकी सभी ने उम्मीद की थी, हालांकि अभी तक उन्होंने संन्यास का ऐलान नहीं किया है। लेकिन ऐसी बेहद कम संभवाना की वह फिर से लिमिटेड ओवर्स फॉर्मेट में भारतीय टीम के लिए खेलते हुए दिखाई देंगे। साल 2007 में वनडे क्रिकेट में डेब्यू करने वाले ईशांत शर्मा ने साल 2016 में अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय वनडे मैच खेला था। ईशांत ने 80 वनडे मैचों में 30.97 के औसत से 115 विकेट हासिल किए हैं। वहीं टी-20 फॉर्मेट की बात की जाए तो उसमें ईशांत ने 14 मैचों में 50 के औसत से 8 विकेट ही हासिल किए हैं।

ईशांत शर्मा

टेस्ट में पूरा ध्यान

लंबे समय तक क्रिकेट खेलने के इरादे से ईशांत शर्मा ने टेस्ट फॉर्मेट में अपना पूरा ध्यान लगाना बेहतर समझा। जिसके बाद वह कपिल देव के बाद भारत के दूसरे ऐसे तेज गेंदबाज बन गए हैं, जिनके नाम पर 100 या उससे अधिक टेस्ट मैच खेलने का रिकॉर्ड दर्ज है। ईशांत शर्मा ने अभी तक टेस्ट क्रिकेट में 101 मैच खेलने के बाद 32.28 के औसत से 303 विकेट हासिल किए हैं। इसमें उन्होंने 11 बार एक पारी में 5 विकेट लेने का कारनामा भी किया है।

अरबों में खेलते हैं फाफ डु प्लेसिस, कुल कमाई जान आप रह जाएंगे दंग

शेड्यूल

SOCIAL WALL


Tilak Varma had a phenomenal season and that earned him a place in this list. 💥

#IPL2022 https://t.co/SlasMGLc0j
100MasterBlastr photo

#IPL2022 is the first season to witness 1000 sixes being hit. Here is the team-wise distribution. 🙌 https://t.co/WfBj4GUAVL 100MasterBlastr photo

It was his string of centuries in county cricket that helped Cheteshwar Pujara make a comeback to the Indian Test team. https://t.co/zEI7e31WdS 100MasterBlastr photo

From shining off the field to now heroics on the field, a remarkable comeback from @DineshKarthik! 🙌 https://t.co/Ukl4Gafx2R 100MasterBlastr photo