साल 2021 में भारतीय टीम या खिलाड़ियों द्वारा बनाए गए इन टॉप-10 रिकॉर्ड्स को देखें

टीम भारतीय

भारतीय क्रिकेट टीम के लिए साल 2021 एक तरह से मिलाजुला रहा। जिसमें टीम ने साल की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर पर टेस्ट सीरीज में दूसरी बार मात दी। वहीं इसके बाद भारतीय टीम ने घर पर इंग्लैंड को टेस्ट सीरीज में भी 2-1 की बढ़त बना रखी है। सीरीज का पांचवा और आखिरी टेस्ट जुलाई में खेला जाएगा। इस साल कई नए खिलाड़ियों ने भी डेब्यू करते हुए अपने खेल के जरिए सभी को प्रभावित किया। जिसमें अक्षर पटेल का नाम प्रमुख तौर पर लिया जा सकता है।

वहीं यह साल विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत के करियर को एक नई राह देने के तौर पर भी देखा जा सकता है। जिसमें उन्होंने ब्रिस्बेन के मैदान पर जिस मैच जिताऊ पारी खेली थी, उससे सभी काफी प्रभावित हुए। वहीं इंग्लैंड के दौरे पर खेले गए 4 टेस्ट मैचों से 2 को भारतीय टीम जीतने में कामयाब रही। जिसके बाद हम आपको इस साल भारतीय टीम या फिर खिलाड़ियों द्वारा बनाए गए 10 प्रमुख रिकॉर्ड के बारे में बताएंगे।

10- श्रेयस अय्यर का डेब्यू टेस्ट मैच में शतक और अर्धशतक लगाना

टी20 वर्ल्ड कप 2021 के बाद भारतीय टीम को घरेलू जमीन पर न्यूजीलैंड के खिलाफ 2 मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी थी। जिसके पहले मुकाबले में श्रेयस अय्यर को टेस्ट प्रारूप में अपने डेब्यू करने का मौका मिला। इस मौके का फायदे उठाते हुए अय्यर ने पहली पारी में शतक जबकि दूसरी पारी में अर्धशतक जड़ा। जिसके बाद वह डेब्यू टेस्ट मैच में ऐसा करने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए।

9- रोहित शर्मा ने लगाया विदेशी जमीन पर अपना पहला टेस्ट शतक

सीमित ओवरों के प्रारूप में अलग पहचान बनाने वाले रोहित शर्मा के लिए साल 2021 टेस्ट करियर के लिहाज से भी काफी शानदार रहा। रोहित ने इस साल हुए इंग्लैंड के दौरे पर केनिंग्टन ओवल में खेले गए मुकाबले में 127 रनों की बेहतरीन पारी खेली। जिसके बाद वह विदेशी जमीन पर अपना पहला टेस्ट शतक साल 2021 में लगाने में कामयाब रहे।

8- टी20 अंतरराष्ट्रीय में 150 छक्के लगाने वाले दूसरे खिलाड़ी बने रोहित शर्मा

भारतीय टीम के नए सीमित ओवरों के कप्तान रोहित शर्मा ने कीवी टीम के सलामी बल्लेबाज मार्टिन गप्टिल के बाद टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 150 छक्के पूरे करने वाले दूसरे खिलाड़ी बन गए हैं। अभी फिलहाल मार्टिन इस लिस्ट में 165 छक्कों के साथ पहले स्थान पर काबिज हैं।

7- भारत की घर पर लगातार 14वीं टेस्ट सीरीज जीत

भारतीय टीम का पिछले कुछ सालों में टेस्ट प्रारूप में बिल्कुल ही एक अलग रूप देखने को मिला है। जिसमें टीम ने घर पर ही नहीं बल्कि विदेशी जमीन पर भी अपना परचम लहराया है। इसी में टीम इंडिया साल 2013 में घर पर टेस्ट सीरीज हारने के बाद से अभी तक लगातार 14 टेस्ट सीरीज जीत चुकी हैं।

6- शुरुआती 5 टेस्ट मैचों में सबसे ज्यादा 5 विकेट 1 पारी में हासिल करने वाले गेंदबाज बने अक्षर पटेल

इस साल भारतीय टीम तरफ से इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज के दौरान बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज अक्षर पटेल ने टेस्ट प्रारूप में डेब्यू करने का मौका मिला। जिसमें उन्होंने मौके का पूरा लाभ उठाते हुए टीम में अपनी जगह को पूरी तरह से पक्का किया। अभी तक 5 टेस्ट मैच खेलने वाले अक्षर पटेल 5 बार पारी में 5 विकेट लेने का कारनामा कर चुके हैं। जो किसी भी दूसरे खिलाड़ी के मुकाबले शुरुआती 5 टेस्ट मैचों में सबसे ज्यादा है।

5- रोहित शर्मा तीनों ही प्रारूप में 3000 रन पूरे करने वाले बने दूसरे खिलाड़ी

यह साल रोहित शर्मा के लिए शानदार रहा, जिसमें वह टेस्ट प्रारूप में एक अलग मुकाम हासिल करने में कामयाब हो सके। वहीं रोहित अब विराट कोहली के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में दूसरे ऐसे खिलाड़ी बन गए हैं, जिनके नाम पर तीनों ही प्रारूप में 3,000 से अधिक रन दर्ज हैं।

4- रविचंद्रन अश्विन टेस्ट प्रारूप में भारत की तरफ से बने सबसे ज्यादा विकेट हासिल करने वाले तीसरे गेंदबाज

न्यूजीलैंड के खिलाफ 2 मैचों की घरेलू टेस्ट सीरीज के दौरान रविचंद्रन अश्विन ने भारतीय क्रिकेट दिग्गज ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह के टेस्ट विकेट के रिकॉर्ड को पछाड़ दिया। जिसके बाद अब अश्विन इस मामले में भारत की तरफ से टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में तीसरे नंबर पर आ चुके हैं।

3- रोहित शर्मा के नाम टी20 अंतरराष्ट्रीय प्रारूप में दर्ज हुई 50 या उससे अधिक रनों की 30 पारियां खेलने का रिकॉर्ड

भारतीय टीम के सालमे बल्लेबाज और अब सीमित ओवर्स के कप्तान रोहित शर्मा लगातार टी20 अंतरराष्ट्रीय फॉर्मेट में एक नया रिकॉर्ड इस साल बनाते हुए नजर आये। जिसमें उनके नाम पर 50 या उससे अधिक रनों की सर्वाधिक पारियां खेलने का रिकॉर्ड भी दर्ज हो गया है। जिसमें रोहित अभी तक 30 बार यह कारनामा कर चुके हैं।

2- ब्रिस्बेन के गाबा मैदान पर पहला टेस्ट जीतने में कामयाब हुआ भारत

साल की शुरुआत में भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ब्रिस्बेन के गाबा मैदान में टेस्ट मैच खेलना था। जहां पर वह टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में इससे पहले एकबार भी नहीं जीत सका था। लेकिन भारतीय टीम ने इस बार यह सिलसिला तोड़ते हुए गाबा में पहली बार टेस्ट मैच जीतने में सफलता हासिल की।

1- ऑस्ट्रेलिया में 2 टेस्ट सीरीज जीतने वाली पहली एशियाई टीम बनी भारत

ऑस्ट्रेलिया में किसी भी टीम के लिए टेस्ट सीरीज में जीत हासिल करना एक तरह से नामुमकिन माना जाता है। लेकिन साल 2018-19 में भारतीय टीम ने इस असंभव काम को संभव करके दिखाते हुए ऐसा करने वाली पहली एशियाई टीम बनी। लेकिन इसके बाद साल 2020-21 के दौरे पर फिर से भारतीय टीम ने टेस्ट सीरीज को अपने नाम कर करते हुए एशिया की पहली ऐसी टीम बनी जिसने 2 बार ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज अपने नाम की हो।

इन 5 विवादों ने साल 2021 में क्रिकेट में बटोरी सबसे ज्यादा सुर्खियां